Home आयुर्वेदनामा

आयुर्वेदनामा

आयुर्वेदनामा: अपनी सुगंध से आपको खींचता है ‛लेमन बेसिल’

आयुर्वेदनामा में आज हम लेमन बेसिल के बारे में जानेंगे। लेमन बेसिल को सुगंधित नींबू बेसिल भी कहा जाता है। नींबू तुलसी...

आयुर्वेदनामा: अत्यंत गर्म और तीखे स्वभाव की वनस्पति ‛चित्रक’

आज आयुर्वेदनामा में हम चित्रक के बारे में जानकारी हासिल करेंगे जो मुख्य रूप से पहाड़ी स्थानों व जगलों में पाया जाने...

आयुर्वेदनामा: कड़वाहट का राजा यानी ‛कालमेघ’

आज आयुर्वेदनामा में हम कालमेघ के बारे में जानकारी हासिल करेंगे जो एक बहुवर्षीय शाक जातीय औषधीय पौधा है।

आयुर्वेदनामा: भुई आंवला की जड़, तना, पत्ती, पुष्प और फल सभी के हैं औषधीय उपयोग

आज आयुर्वेदनामा में हम भुई आंवला के बारे में जानकारी हासिल करेंगे जो कि एक बहुवर्षीय शाक जातीय औषधीय पौधा है। इसका...

आयुर्वेदनामा: जानते हैं गुग्‍गल के बारे में, विलुप्ति की कगार पर है यह प्रजाति

गुग्‍गल एक बहुवर्षीय औषधीय छोटा पेड़ है जिसका वानस्पतिक नाम कमिफोरा मुक्कल है, जो बुरसेरासै कुल के अन्तर्गत आता है। गुग्‍गल के...

आयुर्वेदनामा: अस्‍थमा के उपचार सहित विभिन्न रोगों में कारगर है ‛दमबेल’

दमबेल का उपयोग पारंपरिक रूप से अस्थमा के लिए बहुत लोकप्रिय इलाज है। दमबेल का वानस्पतिक नाम टाइलोफोरा इंडिका है। यह एसक्लीपिएडेसी...

आयुर्वेदनामा: मुंह का स्वाद मिटाने से लेकर मधुमेह की दुश्मन और लिवर टॉनिक भी है गुड़मार

आयुर्वेद में वर्णित हजारों औषधीय पौधों में गुड़मार को अधिक गुणकारी एवं महत्वपूर्ण बताया गया है। इस दुर्लभ जड़ी-बूटी के असाधारण औषधीय...

आयुर्वेदनामा: ‛अनंत मूल’ में छिपे हैं अनेक औषधीय गुण

आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों की दुनिया में ‛अनंत मूल’ एक प्रसिद्ध पारंपरिक औषधीय पौधा है। ‛अनंत मूल’ को ‛इंडियन सरसा परिला’ भी कहा...