Home ग्रामीण विकास

ग्रामीण विकास

कैरियर लैब: जनसहयोग से ले रही है आकार, ग्रामीण परिवेश के बच्चें भरेंगे उड़ान !

आपने लैब के बारे में तो अवश्य ही सुना होगा। अस्पतालों में भी जांच करने के लिए लैब या लैबोरेटरी होती हैं।...

गोविन्दसिंह: इनके हौसले और जुनून के आगे पहाड़ बौने, पत्नी और ग्रामीणों के साथ मिलकर बना दी सड़क

पहाड़ों में एक कहावत लोकप्रिय है कि पहाड़ का पानी और जवानी पहाड़ के काम नहीं आती है। इस कहावत को उत्तराखंड...

सुरेंद्र शर्मा: यह युवा अपने प्रयासों से गांव में बना रहा है लाइब्रेरी

विद्वानों ने पुस्तकों के बारे में कितना कुछ कहा है, कितना कुछ लिखा है। किताबों में लिखी बातों को छुपा हुआ खजाना...

कुलबीर बिष्ट: शादी के कार्ड छापने से लेकर पहाड़ों में डिजिटल इंडिया बसाने तक का प्रेरणादायी सफ़र

आपने पहाड़ियों के कई किस्से सुने होंगे। पहाड़ी इलाकों को बेस बनाकर कई हिंदी फिल्में भी बनीं हैं, जिन्होंने बहुत कामयाबी हासिल...

पढाई छोड़कर बने गांव के प्रधान, सामूहिक भागीदारी से बदल रहे है गांव की तस्वीर !

माना कि अंधेरा घना है, मगर दिया जलाना कहां मना है । यह पंक्तियाँ उत्तरप्रदेश के एक प्रधान पर...

17 सालों से ‛पीरियड’ और ‛पैड’ पर जागरूक कर रही है यह महिला, कार्यों पर बनीं फ़िल्म ने जीता ‛ऑस्कर’

कभी कभी संघर्ष की कहानियां इतनी आगे निकल जाती हैं कि संघर्ष से जूझने वाला इंसान भी एक कीर्तिमान बनकर रह जाता...

आत्मनिर्भर भारत : मिट्टी का ओवन तैयार कर युवाओं ने शुरू किया पिज्‍जा बेचना, कर रहे अच्‍छी कमाई !

मुसीबतों से जो हार मान जाए उसे कायर कहते हैं और मुसीबत को ही अवसर बना ले उसे सफल इंसान कहते हैं

ऐपण गर्ल मीनाक्षी नें उत्तराखंड की लोककला ऐपण को रोजगार से जोड़ दिलाई नयी पहचान

उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में नैनीताल जनपद के रामनगर की रहने वाली मीनाक्षी खाती अभी महज 23 वर्ष की है। लेकिन इतनी...