Home नारी शक्ति वूमनिया : पुलिसकर्मी बेटी की वर्दी पर लगे सितारे को देखते पिता...

वूमनिया : पुलिसकर्मी बेटी की वर्दी पर लगे सितारे को देखते पिता की तस्वीर वायरल

Rattana Ngaseppam story in hindi : माँ-बाप अपने बच्चे को अपने से भी ज्यादा सफल देखना चाहते है. आमतौर पर भारत में माँ-बाप अपने सपने अपने बच्चों के साथ पूरा करते है. किसी भी इंसान के लिए जीवन में वह पल सबसे ज्यादा मायने रखता है जिसमे उसके माँ-बाप उस पर गर्व महसूस कर रहे हो. सोशल मीडिया पर आजकल ऐसे ही एक खूबसूरत पल की तस्वीर खूब वायरल हो रही है. अब तक एक तस्वीर लाखो लोगो द्वारा पसंद कि जा चुकी है. वैसे भी कहा जाता है कि एक तस्वीर हज़ारों शब्दों को बया करने की क्षमता रखती है.

नार्थ-ईस्ट के मणिपुर राज्य के इंफाल की डिप्टी एसपी रत्ना नगसेप्पम (Rattana Ngaseppam) और उनके पिता की तस्वीर ट्विटर समेत की सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर वायरल हो गई है. इस वायरल फोटो में पिता अपनी बेटी की वर्दी पर लगे सितारों को निहारते हुए नजर आ रहे हैं. वहीं बेटी भी अपने पिता की आंखों में उन सितारों की चमक को देख कर खुश दिखाई दे रही है.

रत्ना नगसेप्पम ने मणिपुर पुलिस सर्विस (MPS) का एग्जाम क्लियर किया था. उसके बाद ट्रेनिंग पूरी करके 2016 में इम्फाल वेस्ट में डिप्टी सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (DSP ट्रैफिक) के तौर पर जॉइन  किया था. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक़, ये तस्वीर 2019 की है. तब रत्ताना DSP से प्रमोट होकर ASP (एडिशनल सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस) बनी थीं. हालांकि, सोशल मीडिया पर ये फोटो अब वायरल हो रही है.

इंटरनेट पर वायरल इस फोटो को यूजर्स की अलग-अलग प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं. फोटो पर कमेंट करते हुए एक यूजर ने लिखा “एक पिता का अभिमान है उसकी बेटी”, तो वही दूसरों ने लिखा “नारी सशक्तिकरण का असली चेहरा” एक और यूजर ने कहा “क्या खूबसूरत तस्वीर है” तो एक अन्य ने लिखा “गर्व का क्षण, जो हर किसी को प्रेरित करेगा” वहीं एक और यूजर ने लिखा है “एक पिता के गर्व और बेटी के सम्मान की अद्भुत तस्वीर”

यह तस्वीर दो मायनों में ख़ास है पहली : नार्थ-ईस्ट से आने वाली रत्ना नगसेप्पम ने नारी सशक्तिकरण का नायाब उदाहरण पेश करते हुए सफलता की नयी परिभाषा गढ़ी. दूसरी : पिता के लिए गौरवमयी क्षण जब बेटी ने देश सेवा के लिए भारतीय पुलिस सेवा को चुना.

बी पॉजिटिव इंडिया, पुलिस अधिकारी रत्ना नगसेप्पम की सफलता पर गर्व महसूस करता है और उम्मीद करता है कि उनसे प्रेरणा लेकर देश के अन्य राज्यों से लड़किया भारतीय पुलिस सेवा में जाएगी.

Avatar
News Deskhttps://www.bepositiveindia.in
युवाओं का समूह जो समाज में सकारात्मक खबरों को मंच प्रदान कर रहे हैं. भारत के गांव, क़स्बे एवं छोटे शहरों से लेकर मेट्रो सिटीज से बदलाव की कहानियां लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

किसान के बेटे अमित ने किया राजस्थान बोर्ड में टॉप, एम्स में बनना चाहता है न्यूरोलॉजिस्ट !

मेहनत करने वालों की हार नही होती है यह पंक्तियां राजस्थान बोर्ड के बारहवीं विज्ञान वर्ग में टॉप करने...

10 रुपए में पर्ची, 20 में भर्ती, 3 दिन नि:शुल्क भोजन देने वाला जन सेवा अस्पताल बना नज़ीर

लॉक डाउन के दौरान सेवा कार्यों को अनूठे अंदाज़ में अंजाम देकर जीता सबका दिल बीते दिनों...

पढाई छोड़कर बने गांव के प्रधान, सामूहिक भागीदारी से बदल रहे है गांव की तस्वीर !

माना कि अंधेरा घना है, मगर दिया जलाना कहां मना है । यह पंक्तियाँ उत्तरप्रदेश के एक प्रधान पर...

बच्चों को भीख मांगता देख शुरू की ‘पहल’, शिक्षा के जरिये स्लम्स के बच्चों का जीवन बदल रहे है युवा

शिकायत का हिस्सा तो हम हर बार बनते है, चलिए एक बार निवारण का हिस्सा बनते है. यह पंक्तियां...

आयुर्वेदनामा : शेर के खुले मुंह जैसे सफेद फूलों वाला अड़ूसा : एक कारगर औषधि

आयुर्वेदनामा की इस कड़ी में हम बात करेंगे अड़ूसा के बारे में जो कि एक महत्वपूर्ण औषधि है। सम्पूर्ण भारत में इसके...